आस्था जमालपुर मुंगेर

भागवत कथा : प्रभु के मथुरा गमन व कंस वध की लीला का विस्तार से हुआ वर्णन,

410 Views

 भागवत कथा : प्रभु के मथुरा गमन व कंस वध की लीला का विस्तार से हुआ वर्णन,

जमालपुर।

स्थानीय मारवाड़ी धर्मशाला में अपने जीवन की 95वीं भागवत कथा कर रहे कथा व्यास श्री कृष्ण अनुरागी पं शिवम विष्णु पाठक ने षष्ठम दिवस की भागवत कथा में भागवत जी के अति मनोहर प्रसंग का वर्णन किया। कथा में गोवर्धन नाथ के उत्तरार्द्ध चरित्र पर प्रकाश डालते हुए भागवत व्यास ने कहा कि प्रभु अपने भक्तगण की हर तरह से रक्षा करते हैं। रास के उत्तम प्रसंग का वर्णन करते हुए पं पाठक ने कहा कि रास लीला प्रभु की सर्वश्रेष्ठ लीला है।मूर्ख लोग रास पर विभिन्न मन्तव्य रखते हैं, रास पंचाध्यायी भागवत जी के पंच प्राण है। प्रभु के मथुरा गमन व कंस वध की लीला का विस्तार से वर्णन हुआ।

 

परमात्मा चाहे तो कुछ भी संभव है ।

प्रभु ने उद्धव के माध्यम से यह सिद्ध कराया कि गोपियों की भक्ति सर्वश्रेष्ठ है।श्रोताओं से भरे पण्डाल में माँ की महत्ता का गुणगान हुआ।षष्ठ दिवस के विश्राम प्रसंग में प्रभु का माता रुक्मणी के संग विवाह हुआ।जब जब भजन व श्लोक गायन होता श्रोताओं का हुजूम पूर्ण आनंद को प्राप्त करता। आज विश्राम दिवस की कथा होगी।कथा का समय दोपहर 12 बजकर 15 मिनट से दोपहर 4 बजे तक रखा गया है।मौके पर व्यास पीठ से प्रकाश जी संघई,वासुदेवजी संघई,महेशजी संघई,सुधाजी,महेश जी भुवानियाँ अध्यक्ष मारवाड़ी युवा मंच सुलतानगंज,वीना देवी,सुरेश संघई,प्रवीन फिटकरीवाला,अशोक जी मेहरिया सभी को पंडित पाठक द्वारा मंच से समानित किया गया।आज पूरे परिसर में अपार भीड़ जुटी।चैंबर ऑफ कॉमर्स,बिहार प्रादेशिक सम्मेलन,लायंस क्लब,रानी सती महिला समिति एवम श्री मारवाड़ी धर्मशाला के प्रबंध कार्यकारणी के सभी सदस्य उपस्थित थे।कथा के अंत में आरती उपरांत प्रसाद का वितरण हुआ।

 दूसरी ओर श्री महामाया शक्ति धाम मंदिर प्रांगण में चौथे दिन प्राण प्रतिष्ठा की पूजा चल रही थी जिसमें बाहर से आए पुरोहित द्वारा उसे संपन्न कराया जा रहा है प्राण प्रतिष्ठा के मुख्य यजमान श्री महेश जी शंघाई एवं उनके परिवार के द्वारा पूजा प्रभारी सुजीत संघाई के देखरेख में हुआ पूरे मंदिर परिसर को फूलों से सजाया गया एवं मंदिर का पट आज सभी भक्तों के लिए खोल दिया दिया गया।इस मौके पर गिरधर संघई,आलोक जी संघई,पवन टेकरीवाल,सुमित्रा संघई,लक्ष्मी संघई,प्रकाश पंसारी,मीरा शर्मा,रेखा शर्मा,सीमा शर्मा,योगेश अग्रवाल,संदीप मेहरिया,ज्योति खेमका,राजकुमार शर्मा,शेखर खेतान,वासुदेव पुरी,प्रेम शंकर यादव सहित अन्य  थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *