खास खबर मुंगेर

डीएम ने की सरकारी योजनाओं एवं कार्यालयों के लिए जमीन उपलब्धता राजस्व, खनन, मद्य निषेद्य से संबंधित कार्यो की प्रगति समीक्षा, दिए कई निदेश,भूमिहीनों को प्रखंडवार पर्चा देने का किया जायेगा कार्य : डीएम,

554 Views

डीएम ने की सरकारी योजनाओं एवं कार्यालयों के लिए जमीन उपलब्धता राजस्व, खनन, मद्य निषेद्य से संबंधित कार्यो की प्रगति समीक्षा, दिए कई निदेश,भूमिहीनों को प्रखंडवार पर्चा देने का किया जायेगा कार्य : डीएम,

मुंगेर।संग्रहालय सभागार में जिला पदाधिकारी नवीन कुमार ने सरकारी योजनाओं एवं कार्यालयों के लिए जमीन उपलब्धता राजस्व, खनन, मद्य निषेद्य से संबंधित कार्यो की प्रगति समीक्षा की गयी। सामुदायिक शौचालय केन्द्र के लिए प्रत्येक पंचायत में 03 अदद् सीएससी कराया जाना है, जिसके लिए संबंधित अंचलाधिकारी को जमीन चिह्नित करने का निदेश पूर्व से दिया गया है। अभी भी कई अंचलाधिकारी द्वारा जमीन चिह्नित नहीं किया गया है। निदेश दिया गया कि अविलंब इस हेतु जमीन उपलब्ध कराये ताकि लोहिया स्वच्छ भारत अभियान के तहत सीएससी का निर्माण शीघ्र हो सके। जिला पदाधिकारी ने कहा कि भूमिहीनों को प्रखंडवार पर्चा देने का कार्य किया जायेगा। इससे पूर्व भूमिहीन परिवारों का सर्वे कर ले। अतिक्रमण हटाने में असरगंज की धीमी प्रगति पर असंतोष जाहिर किया गया। जल निकायों के अतिक्रमण मुक्त करने का काम शीघ्र शुरू करे तथा पोर्टल पर अपलोड करे। अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, स्वास्थ्य उप केन्द्र के निर्माण हेतु भी जमीन चिह्नित कर सभी अंचलाधिकारियों द्वारा प्रतिवेदित किया गया है। 43 ऑगनबाड़ी केन्द्र निर्माणाधीन है जबकि 37 का जमीन संबंधी प्रस्ताव अभी प्राप्त हुआ है। निदेश दिया गया कि संबंधित अंचलाधिकारी एवं सीडीपीओ जमीन का भौतिक निरीक्षण कर लेेगे। उन्होंने कहा कि जमीन चिह्नित होने के उपरांत संबंधित विभाग के पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी अनिवार्य रूप से संयुक्त भौतिक निरीक्षण करेगे। प्रखंड/अंचल के लिए भी जमीन चिह्नित करने का कार्य चल रहा है। असरगंज एवं बरियारपुर प्रखंड/अंचल के लिए जमीन चिह्नित करना शेष है। भूमिहीन/भवनहीन विद्यालयों के लिए जमीन चिह्नित करने का कार्य किया जायेगा। थाना भवन, अनुसूचित जाति आवासीय विद्यालय, अति पिछड़ा विद्यालय छात्रावास, एकलब्य विद्यालय, वनस्टाॅप सेंटर आदि के लिए भी जमीन चिह्नित करने का कार्य चल रहा है। जिला पदाधिकारी ने भूमि विवाद के लिए विभिन्न कारणों को सूक्ष्म स्तर पर तलाशने का निदेश दिया। उन्होंने चैकीदार एवं अन्य स्रोतों से आसूचनाओं के आधार पर भूमि विवाद के कारणों को तलाशने का निदेश दिया। जिला पदाधिकारी ने स्पष्ट निदेश देते हुए कहा कि फर्जी एवं जाली जमीनी कागज बनाने वालों पर निगरानी रखे एवं सख्त कार्रवाई करे। उन्होंने बेहतर आसूचना को विकसित करने का निदेश दिया। हल्कावार विभिन्न परियोजनाओं के लिए भूमि चिह्नित कर एक माह में प्रतिवेदन देने का निदेश सभी अंचलाधिकारियों को दिया गया। साथ ही इस बात प्रमाण पत्र भी देंगे कि सभी सरकारी दस्तावेज एवं अभिलेख कार्यालय में ही है। लंबित ऑनलाइन म्यूटेशन को 05 दिनों में खत्म करने का निदेश दिया गया। इसके अतिरिक्त दखल दिहानी, परिमार्जन, किसान सम्मान निधि आदि की भी समीक्षा हुई। उत्पाद की समीक्षा क्रम में जिला पदाधिकारी ने निदेश दिया कि जब्त शराब के विनष्टीकरण का प्रस्ताव संबंधित विभाग अविलंब भेजे। पुलिस विभाग द्वारा 45 मामले भेजे गये। 13 अगस्त को विनष्टीकरण किया जाना है। रेल द्वारा जुलाई माह में तीन गिरफ्तारी की गयी है। 73 लीटर देशी तथा 9 लीटर विदेशी शराब जब्त किये गये है। अविलंब विनिस्टिकरण करने का प्रस्ताव का निदेश दिया गया। बैठक में पुलिस अधीक्षक, अपर समाहर्ता, उप विकास आयुक्त, सभी अनुमंडल पदाधिकारी, डीसीएलआर, सभी अंचलाधिकारी, कर्मचारी थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *