हवेली खड़गपुर

घर घर जल नल योजना : जनप्रतिनिधियों व पदाधिकारियों की लापरवाही के कारण गरीबों के घर तक नहीं पहुंच रहा है शुद्ध पेयजल,

786 Views

घर घर जल नल योजना : जनप्रतिनिधियों व पदाधिकारियों की लापरवाही के कारण गरीबों के घर तक नहीं पहुंच रहा है शुद्ध पेयजल,
हवेली खड़गपुर। राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी घर घर जल नल योजना जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों की लापरवाही के कारण क्षेत्र की जनता को आज भी शुद्ध पेयजल की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। जिससे गरीबों के घर घर शुद्ध जल पहुंचाने का सपना पूरा नहीं हो पा रहा है। कोड़िया पंचायत में 13 वार्ड है। 13 पानी टंकी का निर्माण वार्ड सदस्य की देखरेख में कराया गया है। बोली मुखिया :-पंचायत की मुखिया  मुन्नी देवी ने बताया कि 13 पानी टंकी में 9 पंचायत की राशि से बनाया गया है और 4 टंकी का निर्माण पीएचईडी के द्वारा कराया गया है। जिसमें पूर्व में जिस पानी टंकी का निर्माण पर 12 लाख रुपए और 2019-20 में जिस टंकी का निर्माण कराया गया। उस पर 15 लाख रुपया प्रति टंकी एवं पाइप बिछाने में काम किया गया है। मुन्नी देवी के अनुसार 13 टंकी पर सरकार एक करोड़ 90 लाख रुपए खर्च किए गए हैं, जिसका लाभ ग्रामीणों को नहीं मिल पा रहा है। कहते हैं ग्रामीण :- पंचायत के कारे लाल चंद्रवंशी, अजय पासवान निशांत सिंह मिथिलेश कुमार गौतम कुमार मंडल राजकुमार मांझी दिनेश मांझी एवं दर्जनों से अधिक ग्रामीणों ने बताया कि पाइप बिछाए जाने में घोर अनियमितताएं की गई है। पंचायत के सोनमनी चक टोला में अनुसूचित जाति के हैं, जिन्हें जल नल योजना का लाभ नहीं मिला है, जो जांच का विषय है। वार्ड नंबर 10 में पानी एक फेज में दिया जा रहा है । दूसरे फेज में पानी की आपूर्ति बंद है। इस का कारण है ग्रामीण पैसा देना नहीं देना चाहते हैं। वार्ड नंबर 11 के वार्ड सचिव मनोज कुमार सिंह ने बताया कि पानी बंद है। 2 हजार 2सौ रुपैया का रिचार्ज के बाद भी बिजली विभाग द्वारा लाइन नहीं दिया गया है। ग्रामीणों ने बताया कि कई स्थानों पर रोड पार करने में पाइप ऊपर है जिससे पाइप फट गया है। ग्रामीणों ने बिहार के मुख्यमंत्री और भारत सरकार के जल शक्ति एवं स्वच्छता  मंत्रालय से शुद्ध पानी की आपूर्ति करने और अनियमितता जांच की मांग की है ।कहते हैं पदाधिकारी :- अवर प्रमंडल पदाधिकारी विद्युत खड़गपुर धीरेंद्र कुमार ने बताया कि रिचार्ज कराया है, तो देखना होगा कि विपत्र में क्या गड़बड़ी है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *