घटना-दुर्घटना हवेली खड़गपुर

महाजन के तगादे से डिप्रेशन में आए छात्र ने फांसी लगाकर की आत्महत्या,
घर का अकेला चिराग था शिवम, मामले की जांच में जुटी पुलिस,

1,904 Views

महाजन के तगादे से डिप्रेशन में आए छात्र ने फांसी लगाकर की आत्महत्या,
घर का अकेला चिराग था शिवम, मामले की जांच में जुटी पुलिस,
हवेली खड़गपुर ।

बीती रात्रि नगर क्षेत्र के अंबेडकर चौक निवासी वीरेंद्र केशरी के 20 वर्षीय पुत्र शिवम केशरी ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।  पिता बिरेंद्र केशरी ने धंधे के लिए महाजन से कर्ज ले रखा था। महाजन के कर्ज के तगादे के बाद व्यसायिक पुत्र छात्र शिवम  डिप्रेशन में था।

लॉक डाउन की वजह से धंधा ठप होने से  और महाजन की  तगादा के चलते  घर में आर्थिक तंगी की वजह से  घरेलू विवाद भी था।सोमवार को देर रात अपने घर परिवार के साथ खाने-पीने के बाद अपने कमरे में सोने गया था। सुबह जब घरवाले दुकान खोलें पहुंचे तो देखा कि  शिवम  छत से लटका पडा़ है। परिजनों में कोहराम मच गया। उसे देखने आसपास के लोगों की भीड़ जुट गई। शिवम  इंटर  इस वर्ष  प्रथम श्रेणी से  पास हुआ था । पढ़ाई के साथ  अपने पिता के रोजगार में भी  हाथ बटाता था। मंगलवार की सुबह खड़गपुर पुलिस को सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लिया । पोस्टमार्टम  के लिए मुंगेर भेज दिया एवं पुलिस मामले की छानबीन में जुट गयी। मृतक के पिता  वीरेंद्र केशरी ने बताया कि महाजन द्वारा तगादा का दबाव बनाया जा रहा था। जिससे शिवम डिप्रेशन में था। हालांकि समाचार लिखे जाने तक पुलिस कई बिंदुओं पर परिजनों से पूछताछ कर रही है ।  परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। मोहल्ले के लोग भी शिवम की मौत के बाद सदमे में हैं। इस बाबत थाना अध्यक्ष मिंटू सिंह ने बताया कि पिता बिरेंद्र केशरी द्वारा थाने में आकर सूचना दी  कि चार लोग  मेरे पुत्र शिवम पर दबाव बना रहे थे और डिप्रेशन में आकर शिवम ने ऐसी घटना को अंजाम दिया है। थाना अध्यक्ष ने कहा कि अभी तक लिखित आवेदन नहीं दी गई है । पिता द्वारा बताया गया है कि दाह संस्कार के बाद लिखित आवेदन थाने में दी जाएगी। शिवम चार बहनों में अकेला भाई था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *