खास खबर मुंगेर

पोषण एवं पुनर्वास केंद्र : अति कुपोषित बच्चों को मिलती है बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं, 

12 Views

पोषण एवं पुनर्वास केंद्र : अति कुपोषित बच्चों को मिलती है बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं, 

21 दिनों तक नियमित चिकित्सकीय जांच के साथ पूरा कराया जाता है दवाइयों का कोर्स,

मुंगेर। 

सदर अस्पताल परिसर स्थित पोषण एवं पुनर्वास केंद्र ( एनआरसी) मुंगेर में भर्ती अति कुपोषित बच्चों को नियमित चिकित्सकीय जांच के साथ बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मिल रही हैं । अभी यहां भर्ती कुल 17 अति कुपोषित बच्चों और उनके साथ रहने वाली माताओं को बेहतर माहौल में रखने के साथ ही नियमित रूप से मेन्यू  के अनुसार पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। अति कुपोषित बच्चों के पोषण स्तर को ठीक करने के लिए नियमित रूप से हरी साग-सब्जियों के साथ ही दूध और अंडा भी दिया जा रहा है। 

एनआरसी मुंगेर की  फीडिंग डिमांस्ट्रेटर रचना भारती ने बताया कि यहां अभी कुल 17 अति कुपोषित बच्चे भर्ती हैं। इनमें से एक बच्ची छोटी कुमारी विगत 1जून को एनआरसी में भर्ती कराई गई थी। मुंगेर के गुलज़ार पोखर स्थित डब्लू सिंह की साढ़े चार साल की  बेटी कॉकस एब्डोमेन या इंटेस्टाइन एब्डोमेन नामक बीमारी से ग्रसित थी। इस बीमारी में इंटेस्टाइन एब्डॉमेन चिपका हुआ रहता है जिसे सर्जरी के बाद ही ठीक किया जा सकता है। इस बीमारी में पेट संबंधित कई परेशानियां होती हैं । इस बच्ची का एडमिशन के समय वजन लगभग 9 किलो और  लम्बाई 87 सेमी था । वहीं 21 जून को 21 दिनों के इलाज और बेहतर देखभाल के बाद उसका वजन लगभग 11 किलो था। बच्ची का अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट के बाद एनआरसी के गाइड लाइन के अनुसार ट्रीटमेंट किया गया। यहां एडमिशन के वक्त बच्ची का हीमोग्लोबिन लेवल भी काफी कम था और वो बुखार से भी पीड़ित थी। यहां बच्ची का होल एब्डोमेन अल्ट्रासाउंड के साथ ही लिवर  फंक्शन टेस्ट (एलएफटी), रीनल फंक्शन टेस्ट ( आरएफटी ) और कम्पलीट ब्लड काउंट (सीबीसी) टेस्ट करवाया गया है और उसके बाद 21 दिनों तक लगातार नियमित रूप से दवाइयों और बेहतर करने के बाद 21 जून को बेहतर इलाज के लिए पटना स्थित पीएमसीएच रेफर कर दिया गया। 

पोषण एवम पुनर्वास केंद्र (एनआरसी) मुंगेर की  इंचार्ज सुलेखा कुमारी ने बताया कि एनआरसी में अभी आरबीएसके के सहयोग से बाल ह्रदय रोग से पीड़ित दो बच्चे सहित कुल तीन बच्चे भर्ती हैं । यहां गुलालपुर मुंगेर निवासी मो. इरशाद अंसारी और रौशनी बानो का 7 महीने का बेटा माहिर  6 जून को भर्ती हुआ है। वहीं दशरथपुर, धरहरा निवासी जयराम चौधरी और पूनम देवी कि छह महीने कि बेटी सोनम कुमारी 21 जून को भर्ती हुई है। इसके अलावा दशरथपुर, धरहरा के रहने वाले प्रकाश यादव और पिंकी देवी की जुड़वा पैदा होने वाली मीनाक्षी कुमारी को 15 जून को भर्ती कराया गया है। इसके साथ जुड़वां पैदा होने वाली  लड़की कि मौत 14 जून को हो गई थी। इसके अलावा यहां कासिम बाजार मुंगेर के रहने वाले नीतीश कुमार और प्रीति कुमारी का लड़का ऋषभ कुमार भी भर्ती है। 

एनआरसी मुंगेर के नोडल अधिकारी विकास कुमार ने बताया कि एनआरसी मुंगेर में अभी कुल 17 बच्चे इलाजरत हैं। यहां 21 जून तक कुल 31 बच्चों का एडमिशन हुआ जबकि कुल 28 बच्चे बेहतर इलाज के बाद डिस्चार्ज किए गए हैं जबकि एक बच्चा बेहतर इलाज के लिए पटना रेफर किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *