घटना-दुर्घटना तारापुर

दोस्त की शादी में बारात जा रहे दो युवकों की सड़क दुर्घटना में हुई मौत,

254 Views

दोस्त की शादी में बारात जा रहे दो युवकों की सड़क दुर्घटना में हुई मौत,

हेलमेट पहने रहने से बच सकती थी जान,

 तारापुर।

 थानाक्षेत्र के तारापुर खड़गपुर मार्ग में सोमवार की देर रात्रि बेलहरनी नदी पर बने पुल के समीप एक अज्ञात ट्रक के चपेट में आने से दोस्त की शादी में बारात जा रहे दो युवकों की मौत हो गई।

कैसे हुई घटना :-

दुर्घटना के शिकार ऋषिदेव कुमार ने बताया कि हमलोग तीनों व्यक्ति एक ही मोटरसाइकिल से सवार होकर अपने गांव बांका जिला के गादी राता से खड़गपुर के बनवर्षा गांव दोस्त की शादी में बारात  जा रहे थे। तभी तारापुर थाना क्षेत्र के तारापुर खड़गपुर रोड में बेलहरनी नदी के समीप सामने से आ रही एक ट्रक ने मोटरसाइकिल में घक्का मार दिया । जिससे मोटरसाइकिल पुल के सुरक्षा दीवार से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो गई। दुर्घटना में श्रवण और अमरजीत को गंभीर चोट आई। जबकि मुझे हल्की चोट आई। अमरजीत को पीछे से बारात के साथ आ रहे उसके पिता संजय मंडल व अन्य ने इलाज के लिए खड़गपुर अस्पताल लेकर चले गये। जबकि हमको और श्रवण को दुर्घटना स्थल पर छोड़ दिया।

किन की हुई मौत :-

उन्होंने बताया कि वे तीन लोग मोटसाइकिल पर सवार थे।  तीनों लोग बुरी तरह जख्मी हो गये।  बांका जिला के गादी राता (खेसर) निवासी शंकर सिंह का 20 वर्षीय पुत्र श्रवण कुमार का तारापुर अस्पताल में तथा संजय कुमार मंडल का 14 वर्षीय पुत्र अमरजीत कुमार हवेली खड़कपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मौत हो गई। मैं देवनंदन यादव का पुत्र ऋषिदेव कुमार ईश्वर की कृपा से सुरक्षित हैं। 

कैसे पहुंचे अस्पताल :-

ऋषिदेव ने बताया कि अमरजीत को पीछे से बारात के साथ आ रहे उसके पिता संजय मंडल व अन्य ने इलाज के लिए खड़गपुर अस्पताल लेकर चले गये। दुर्घटना की खबर मिलते ही मौके पर पहुंची तारापुर पुलिस उन्हें और श्रवण को इलाज के लिये अनुमंडल अस्पताल तारापुर पहुंचाया। जहां ड्यूटी में मौजूद डा. मदन कुमार पाठक ने श्रवण को जांच कर मृत घोषित कर दिया। मुझे प्राथमिक उपचार कर खतरे से बाहर बताया।

कब पहुंचे परिजन :-

मंगलवार की सुबह मृतक श्रवण के वृद्ध पिता शंकर सिंह अपने परिजनों के साथ अनुमंडल अस्पताल तारापुर पहुंचे । जहां बेटे के शव को देखते ही दहाड़ मार कर रो पड़े। पिता को रोते देख अन्य परिजन व आसपास के लोग अपनी आंसू नहीं रोक पा रहे थे। अमरजीत का शव लेकर उनके स्वजन खड़गपुर अस्पताल से अपने घर लेकर खेसर चले गए थे। पुलिस के निर्देश पर अमरजीत के शव को तारापुर लाया गया। तारापुर पुलिस ने दोनों युवकों के शव को कागजी प्रक्रिया पूरी करने के बाद पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल मुंगेर भेज दिया ।

कहते हैं लोग :-

स्थानीय नागरिकों के बीच यह चर्चा बनी रहे कि श्रवण हेलमेट पहने रहता, तो उसकी जान बच सकती थी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *