खास खबर मुंगेर

बिहार डायरी एवं कैलेण्डर 2022 में होगी भीमबांध की झलकियां,

154 Views

 बिहार डायरी एवं कैलेण्डर 2022 में होगी भीमबांध की झलकियां,

मुंगेर। बिहार सरकार के सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग द्वारा प्रकाशित बिहार डायरी 2022 एवं कैलेण्डर 2022 का लोकार्पण कर राज्य की जनता को समर्पित किया।बिहार की ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक विरासत काफी समृद्ध है। यह भूमि विभिन्न सभ्यताओं के पुष्पित एवं पल्लवित होने का साक्षी है। बिहार में प्रचुर प्राकृतिक विविधता देखने को मिलती है। कहीं पहाड़, कहीं नदियाँ तो कहीं प्राकृतिक संपदाओं एवं जंगली जानवरों से भरपूर वन । प्रकृति की यह विविधता बरबस ही लोगों को अपनी ओर आकर्षित करती है। सरकार पर्यावरण संरक्षण के लिये पूरी तरह से कृतसंकल्पित है। पर्यावरण को संरक्षित रखने के लिये किया गया विकास ही टिकाऊ होगा। इसी को ध्यान में रखते हुये महत्वाकांक्षी जल- जीवन- हरियाली अभियान चलाया गया है। बिहार में ऐसे अनेक स्थल हैं जहाँ पर्यटक प्राकृतिक परिवेश का आनंद उठाने के लिये आते हैं। पर्यावरण को संरक्षित रखते हुये ही इन स्थलों का विकास किया जा रहा है तथा पर्यटकीय सुविधा विकसित की जा रही है। लोगों को इससे अवगत कराने के उद्देश्य से इस वर्ष के कैलेण्डर में ईको टूरिज्म की कुछ जगहों की झलकियाँ कैलेंडर में दर्शाया गया है।  कैलेंडर के अलग-अलग पृष्ठों में ईको टूरिज्म की अलग-अलग जगहों की झलकियाँ दर्शायी गयी है। जिसमें दर्शाया गया है कि भीमबांध गंगा नदी के दक्षिण में मुंगेर जिले में स्थित है। यह चारों ओर से घने जंगलों से घिरा हुआ है। घाटी के भागों में और तलहटी में कई गर्म झरने हैं जिनमें भीमबांध, सीता कुंड तथा ऋषि कुंद प्रसिद्ध है। सभी गर्म झरने पूरे वर्ष लगभग समान तापमान बनाए रखते हैं। भीमबांध स्प्रिंग्स इनमें से सबसे गर्म है और इसका तापमान 52 डिग्री सेल्सियस से 65 डिग्री सेल्सियस के बीच रहता है। यहां पर्यटकों के लिए पार्क एवं अन्य सुविधाएँ विकसित की गई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *