खास खबर गया

अत्याचार को रोकने के लिए महिला विकास मंच तत्पर : वीणा मानवी,महिला विकास मंच ने मनाया सातवां वार्षिक महोत्सव,

49 Views

अत्याचार को रोकने के लिए महिला विकास मंच तत्पर : वीणा मानवी,महिला विकास मंच ने मनाया सातवां वार्षिक महोत्सव,गया। अत्याचार को रोकने के लिए महिला विकास मंच तत्पर है। उपरोक्त बातें राष्ट्रीय संरक्षक वीणा मानवी ने कही। वे मलदहिया स्थित होटल में आयोजित महिला विकास मंच के सातवां वार्षिक महोत्सव पर अपने विचार व्यक्तत कर रही थी। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम का शुभारंभ दो चरणों में किया गया है चेयरमैन  पी.के. चौधरी द्वारा पहली चरण की शुरुआत की गई। जिसमें कार्यकारिणी बैठक किया गया है।  कार्यक्रम में देश के कोने-कोने से बिहार, झारखंड, बंगाल, उत्तर प्रदेश एवं दिल्ली से आये सभी अध्यक्ष उपस्थित हुऐ है I उन्होंने बताया कि महिला और पुरुषों पर हो रहे लगातार अत्याचार के खिलाफ महिला विकास मंच पूरे देश में आवाज उठा रही है। उन्होंने महिला विकास मंच से एक आवाज एक आगाज का नारा दिया। उन्होंने  नीतू अनीता जयसवाल सहित उत्तर प्रदेश के सभी टीम मेंबर्स का धन्यवाद ज्ञापन करते हुऐ कहा कि महिला विकास मंच इसी तरह अपना कार्य करता रहेगा और लोगों को न्याय दिलाने का कार्य करेगा I उन्होंने बताया कि सीमा समृद्धि राष्ट्रीय कानून सलाहकार हमारे संगठन के लिए हरदम खड़ी रहती हैं। उद्घाटन मुख्य अतिथि अनुपमा जायसवाल एवं  कन्हैयां सिंह सहित विशिष्ट अतिथि मनीष कुमार सिंह एवं पूर्व मेयर अंजू चौधरी (गोरखपुर) ने किया। मुख्य अतिथि प्रख्यात समाजसेवी सह उतर प्रदेश की पूर्व मंत्री अनुपमा जयसवाल ने  कहा कि हम जितनी भी बात करे, महिला और पुरुष उत्पिडन की तो हमे यह समझना होगा कि हमारी उत्पत्ति कहा से हुई है।  नारी शक्ति के ध्येय को भी संजोकर चलना है। इस पर महान कवि डा जयशंकर प्रसाद ने कहा था कि नारी तुम  केवल श्रद्धा हो,पियुश गगन न पल में,पियुष सोभीत बहा करो,जिवन के सुंदर संकल्प…,हमारि इस महत्ता को देखकर वेदो,रिऋयो,मुनियों ने हमें शक्ति की संझा दी। यत नारे पुजंयते अहयोंते देवीका,जो देने वाले है उसको देविका कहा जाते हैं। आप देने वाले हो जाते हैं। उन्होंने आगे यह बताया कि हमारे सुख और दुख का कारण हमारी सोच हैI बड़ी से बड़ी समस्या का समाधान बातचीत से संभव है एवं ठंडे दिमाग से पहले आपस में ना हो तो परिवार अन्यथा समाज के सहयोग से किया जा सकता है इसके लिए थाना पुलिस कोर्ट कचहरी आदि का सहारा नहीं लेना चाहिए इससे जीवन में शांति की जगह अशांति ले लेती है। अनावश्यक धन व समय की बर्बादी होती है, इससे बचना चाहिए Iमहिला विकास मंच के राष्ट्रीय प्रभारी अटल कुमार गुप्ता ने  बताया कि महिला विकास मंच न सिर्फ औरतों पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ आवाज उठाता है। अपितु पुरुषों  पर भी हो रहे अत्याचार के खिलाफ खड़ा रहता है। आजकल कुछ अमानवी लोगों के कारण अपनी स्वार्थ की पूर्ति हेतु महिलाओं द्वारा पुरुषों के साथ जो गलत किया जाता है। उन्हें सजा भी दिलाने का कार्य करता है। इसके साथ ही साथ अभी तक 20 से 25 रेप पीड़िता को महिला विकास मंच न्याय दिला चुका है।  अतिथियों का स्वागत राष्ट्रीय अध्यक्ष अरूणिमा  द्वारा किया गया।  राष्ट्रीय सचिव पंकज सिंह द्वारा लोगों को सम्मानित किया गया। मौके पर नीतू, अनीता जयसवाल,शशिधर मिश्रा, ऋषि जायसवाल एवं अन्य थेे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *