खास खबर मुंगेर हवेली खड़गपुर

ट्रक और ऑटो की टक्कर में ऑटो चालक सहित चार की मौत,
आक्रोशित ग्रामीणों ने ट्रक को किया आग के हवाले, मुआवजे की मांग को लेकर स्वजनों एवं ग्रामीणों ने किया सड़क जाम,

188 Views

ट्रक और ऑटो की टक्कर में ऑटो चालक सहित चार की मौत,
आक्रोशित ग्रामीणों ने ट्रक को किया आग के हवाले, मुआवजे की मांग को लेकर स्वजनों एवं ग्रामीणों ने किया सड़क जाम, हवेली खड़गपुर /मुंगेर।  खड़गपुर गंगटा मुख्य पथ पर नगरी गांव के समीप ऑटो व ट्रक की टक्कर में ऑटो चालक सहित चार विद्यार्थियों की मौत हो गई। घटना मेंं आधा दर्जन छात्र-छात्राएं जख्मी हो गए। घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय लोगों ने सर्वप्रथम जख्मी छात्र छात्राओं को इलाज के लिए अस्पताल भेजा तत्पश्चात आक्रोशित ग्रामीणों ने ट्रक को आग के हवाले कर दिया। साथ ही मुआवजे की मांग को लेकर स्वजनों एवं ग्रामीणों ने शव रख कर सड़क जाम कर दिया। 

कैसे हुई घटना :- प्राप्त जानकारी के अनुसार ऑटो पर सवार होकर 10 छात्र छात्राओं की टोली ट्यूशन पढ़ने के लिए मोहनपुर गांव से खड़गपुर आ रहे थे। नगरी गांव के पास मुख्य सड़क पर ऑटो के पहुंचते ही सामने से तेज रफ्तार से आ रही ट्रक ने जोरदार धक्के ऑटो में मार दिया। जिससे ऑटो चालक एवं ऑटो पर सवार एक छात्र की घटना स्थल पर ही मौत हो गई।  शेष जख्मी छात्र छात्राओं को स्थानीय ग्रामीणों ने इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्यय केंद्र खड़गपुर भेजा। इलाज केे दौरान एक छात्र और एक छात्रा की की मौत सामुदायिक स्वास्थ्यय केंद्र मेंं हो गई

किस की हुई मौत :-ऑटो चालक सहित 4 छात्र छात्राओं की मौत हो गई। ट्रक चालक एवं खलासी भागने में सफल रहे। मृतकों में ऑटो चालक राय टोला निवासी विजय राय का  24 वर्षीय पुत्र मनीष कुमार उर्फ चीकू, मोहनपुर निवासी महेश यादव का 18 वर्षीय पुत्र केशव कुमार, पप्पू शर्मा का 17 वर्षीय पुत्र रितिक कुमार व संतोष पासवान की 15 वर्षीय पुत्री सोनाली कुमारी शामिल है।

कौन-कौन है जख्मी :-  सीमा कुमारी ( 15 वर्ष ), शैलेंद्र कुमार ( 16 वर्ष ), रोहित कुमार ( 20 वर्ष ), पूजा कुमारी ( 16 वर्ष ), अन्नु कुमारी ( 17 वर्ष ) शामिल है।  मंझगाय की एक ही परिवार की पूजा और अन्नू दोनों आपस में चचेरी बहन है। तिलवरीया निवासी निवासी स्व. महेश यादव की पुत्री सीमा कुमारी पूजा और अन्नू की ममेरी बहन है, जो अपनी नानी के यहां मंझगाय में रहकर पढ़ती थी तीनों का इलाज भागलपुर के मायागंज अस्पताल में चल रहा है। 2 महीने पूर्व सीमा कुमारी के पिता तिलवरीया निवासी महेश यादव की मौत हो गई थी। 

धूं धूं कर जलता रहा ट्रक कैंप करती रही पुलिस :-घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने ट्रक को आग के हवाले कर दिया। ट्रक धूं-धूं कर जलता रहा और पुलिस जाम स्थल पर कैंप करती रही। ट्रक को बुझाने के लिए कोई अग्निशामक गाड़ी का प्रयोग नहीं किया गया। ट्रक और टेंपो घटनास्थल पर ही जलकर राख हो गया।   घटना की जानकारी मिलते ही अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी राकेश कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी अमिताभ कुमार गुप्ता, प्रखंड विकास पदाधिकारी पंकज कुमार दीक्षित, थाना इंस्पेक्टर नईमुद्दीन अंसारी, खड़गपुर थाना अध्यक्ष धीरेंद्र कुमार पांडे,  गंगटा थानाध्यक्ष मजहर मकबूल, शामपुर थाना अध्यक्ष पप्पन कुमार, अंचलाधिकारी घटना स्थल पर पहुंच हुंच कर स्वजनों को समझा-बुझाकर पोस्टमार्टम के लिए सभी शव को कब्जे में लेकर मुंगेर भेजा दिया।


आश्वासन मिलने के बाद हटा जाम :-अनुमंडल पदाधिकारी अमिताभ कुमार गुप्ता द्वारा दाह संस्कार के लिए प्रत्येक  मृतक परिवार को 20 – 20 हजार रुपये देने एवं सरकारी नियमानुसार मुआवजा देने का आश्वासन देने के बाद जाम हटाया गया। एसडीपीओ राकेश कुमार ने लोगों को आश्वासन दिया तेज रफ्तार वाहनों पर नजर रखने के लिए पुलिस टीम गठित की जाएगी। तेज वाहन चलाने वाले चालक पर कार्रवाई होगी।घटना की सूचना पर 

स्वजनों से मिले विधायक :- घटना की खबर मिलते ही तारापुर के जदयू विधायक  राजीव कुमार सिंह खड़कपुर पहुंचे और मृतक परिवार के सदस्यों से मिलकर ढांढस बंधाया। उनके साथ सुजीत कुमार मुन्ना, नरेश सिंह, विनय झा, विपिन मंडल थे।


1 दिन पूर्व हुई घटना में भागलपुर में छात्र की मौत :-1 दिन पूर्व रायपुरा चौक के पास बोलेरो और जुगाड़ गाड़ी के टक्कर में जख्मी हुए तीन छात्रों में एक की मौत इलाज के लिए भागलपुर जाने के क्रम में हो गई। दी गई जानकारी के अनुसार जख्मी रामबिहारीपुर निवासी तीन छात्र राम प्रवेश तांती का पुत्र अमन कुमार, ब्रहमदेव तांती का पुुत्र सोनू कुमार व बबलू तांती का पुत्र अमन कुमार को इलाज केे लिए भागलपुर ले जाया गया । जिसमें से राम प्रवेश तांती का पुत्र अमन की मृत्यू भागलपुर लाने के क्रम में हो गयी।

स्वजनों के नहीं रुक रहे थे आंसू :-हृदय विदारक दिल को दहला देने वाली घटना स्थल पर थोड़ी देर के लिए अफरा-तफरी मची रही। कोई मृतक को निहार रहा था तो कोई जख्मी को अस्पताल पहुंचाने मे लगा था। कोई अपने परिजनों को ढूंढ रहा था और पता लगाने की कोशिश में था कि उनके बच्चे सुरक्षित है या नहीं। घटनास्थल पर पहुंचे स्वजनों का  रो रो कर बुरा हाल था। उनके आंसू रोके नहीं रुक रहे थे। रोते बिलखते स्वजनों को देख कर ग्रामीणों का आक्रोश फूट पड़ा। आक्रोशित ग्रामीणों ने ट्रक को आग के हवाले कर दिया और धीरे-धीरे घटनास्थल पर पहुंची भीड़ से सड़क जाम हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *