मुंगेर हेल्थ टिप्स

कोरोना संक्रमण के बीच सही पोषण से ही मजबूत होगी बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता,तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच मौसमी बीमारी का बढ़ गई संभावना,

461 Views

कोरोना संक्रमण के बीच सही पोषण से ही मजबूत होगी बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता,तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच मौसमी बीमारी का बढ़ गई संभावना,
 मुंगेर।
 जिले में कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच लगातार बदल रहें मौसम के कारण तरह- तरह की  मौसमी बीमारी के होने की संभावना भी काफी बढ़ गई है।  कोरोना के साथ ही इससे भी बचने के लिए हमें और अधिक सावधान रहने की जरूरत है। इस दौरान बच्चों के साथ ही किशोर व युवाओं को भी कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए सही पोषण का ख्याल रखना बेहद जरूरी है। क्योंकि सही पोषण से ही लोगों में रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित होती है, जो कोरोना संक्रमण से बचने के साथ ही मौसमी बीमारियों से हमें बचाने में भी संजीवनी साबित होगी । इसके साथ ही अभी भी लोगों को मास्क और शारीरिक दूरी के नियम का पूरी सावधानी के साथ पालन करना आवश्यक है। कहते हैं पदाधिकारी :-जिला स्वास्थ्य समिति मुंगेर के डीपीसी एवं एनआरसी के नोडल अधिकारी विकास कुमार ने बताया कि बदलते मौसम में कई तरह की  मौसमी बीमारियों के होने की  भी संभावना काफी बढ़ जाती है। जैसे कि एलर्जी, सर्दी-खाँसी, बुखार सहित अन्य वायरल टाइप की बीमारियों की  भी चपेट में लोग आ जाते हैं। इसलिए इससे बचाव के लिए हरी सब्जी, दाल, साग समेत अन्य पौष्टिक आहार का ज्यादा से ज्यादा सेवन करें। बच्चों का सही पोषण का उनके माता-पिता व परिवार के अन्य सदस्यों को विशेष ख्याल रखना चाहिए और ससमय खाना खिलाना चाहिए। संक्रमण से बचने के लिए क्या करें :—-उन्होने बताया कि मौसमी बीमारियों से बचाव के लिए प्रत्येक दिन समय पर खाना खाएं और पर्याप्त मात्रा में उचित व शुद्ध पानी का सेवन करें। हरी सब्जी व साग का ज्यादा उपयोग करें, इससे हमारे शरीर में पोषक तत्व बढ़ता है और हमें बीमारी से लड़ने में सहयोग करता है।उन्होंने बताया कि सभी तरह की  बीमारियों के संक्रमण से बचने के लिए सभी लोग साफ-सफाई का भी विशेष ख्याल रखें और घर से लेकर आसपास के जगहों पर भी साफ-सफाई का विशेष ध्यान दें। ब्लीचिंग पाउडर का नियमित रूप से छिड़काव कराएं । साथ ही आसपास के लोगों को भी साफ- सफाई के प्रति जागरूक करें। इसके अलावा  रहन-सहन के तरीके में भी बदलाव लायें । जो हमें बीमारी के दायरे से बचाये एवं हम अस्पताल जाने से बचें।शरीर में नहीं होने दें पानी की  कमी :-उन्होंने  बताया कि शरीर में पानी की कमी होने के कारण भी तरह- तरह की बीमारियों का सामना करना पड़ता है। इसलिए शरीर में पानी की कमी नहीं होने दें। इसके लिए लगातार शुद्ध पानी पीयें और बाहर निकलने यानी यात्रा के दौरान पानी साथ लेकर चलें। अनिवार्य रूप से करें कोरोना गाइड लाइन का पालन : –
– सभी लोग घर से बाहर निकलने कि स्थिति में मास्क, गमछा, रुमाल या अन्य कपड़े से अपने नाक और मुंह को ढकें  ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण को कम से कमतर किया जा सके। – सभी लोग भीड़ भाड़ वाले स्थान पर जाने की  स्थिति में शारीरिक दूरी के नियम के तहत कम से कम दो गज या छह फीट के नियम का पालन करें । – सभी लोग कुछ भी छूने कि स्थिति में साबुन या हैंड सैनिटाइजर से अपने हाथों को एक निश्चित अंतराल के बाद साफ करें ताकि हाथों के जरिये कोरोना वायरस का संक्रमण न फैलने पाए। – संक्रमण वाली जगहों या जहां पर पर साफ -सफाई नहीं हो वहाँ  खाना खाने से बचना चाहिए।- घर के आसपास गंदगी जमा नहीं होने दें।- संक्रमण वाले स्थानों से दूर रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *