खास खबर तारापुर

अतिक्रमणकारियों के विरूद्ध चला प्रशासन का बुलडोजर,35 वर्षों से रह रहे परिवार हुआ बेघर,अनाधिकृत रूप से  आम गैरमजरूआ जमीन में अतिक्रमण कर बनाया था मकान,

836 Views

अतिक्रमणकारियों के विरूद्ध चला प्रशासन का बुलडोजर,35 वर्षों से रह रहे परिवार हुआ बेघर,अनाधिकृत रूप से  आम गैरमजरूआ जमीन में अतिक्रमण कर बनाया था मकान,
 तारापुर।प्रखंड क्षेत्र के मानिकपुर पंचायत के  लखनपुर गांव के वार्ड सात के दरगाही नदी से सटे सरकार के जमीन पर अनाधिकृत रूप से बनाये गये पक्की मकान को  तारापुर थानाध्यक्ष राजेश कुमार रंजन सहित सैकड़ो पुलिस बल की उपस्थिति में वरीय दंडाधिकारी एएसडीओ वसीम अकरम,सीओ वंदना कुमारी के नेतृत्व में जेसीबी से तोड़वाया गया। तोड़ा गया मकान खाता नंबर – 239,खसरा 3435 थाना संख्या -98 पर मो.जुनैद के द्वारा पिछले वर्ष 2020 में बनवाया गया था। पिछले 35 वर्षो से जुनैद अपने मां पिता के साथ तो शादी होने के बाद पत्नी बीबी जुबैदा और बच्चों के साथ रह रहा था। मकान तोड़े जाने के पहले सीओ वंदना के द्वारा गृह स्वामी को मकान खाली किये जाने को लेकर नोटिस जारी किया गया था।मकान तोड़े जाने के बाबत सीओ वंदना कुमारी ने बताया कि उक्त मकान अनाधिकृत रूप से  आम गैरमजरूआ जमीन में अतिक्रमण कर बनाया गया था।इसकी लिखित आवेदन लखनपुर गांव निवासी मो. नदीम अहमद के द्वारा अंचल कार्यालय को दिया गया था। आवेदन में उक्त अतिक्रमित जमीन को अतिक्रमणमुक्त किये जाने की गुहार लगाया था।आवेदन पर संज्ञान लेते हुए गृह स्वामी को जमीन से संबंधित कागजात पेश किये जाने को कहा गया था। गृह स्वामी अंचल कार्यालय को कागजात पेश नहीं कर पाये। उक्त स्थल का जायजा लेने पर नव निर्मित मकान को आम गैरमजरूआ में पाया गया।सरकारी जमीन पर अवैध रूप से मकान बनाये जाने की पुष्टि होने पर गृह स्वामी को खुद से मकान तोड़े जाने को लेकर नोटिस किया गया था।नोटिस दिये जाने के बावजूद गृह स्वामी के द्वारा मकान नहीं तोड़े जाने की स्थिति में गुरुवार को जेसीबी के माध्यम से वरीय दंडाधिकारी वसीम अकरम के देखरेख में सैकड़ो पुलिस बल की मौजूदगी में दो मकान को तोड़वाने का काम किया गया।मकान टूटने वाले में एक घर तौहीद अंसारी का है जिसके चारदीवारी को तोडा गया।तो वही दूसरा मकान जुनैद अंसारी का है जिसको पूरी तरह से तुड़वाया दिया गया।बतादें की जूनैद अंसारी भूमिहीन परिवार से आते हैं।इसलिये उन्हें मकान तोड़े जाने से पूर्व चार डिसमिल जमीन का वासगीत पर्चा जारी कर दिया गया है।‌        अनाधिकृत रूप से सरकार के जमीन पर घर बनाकर वर्षों से रह रही पिडित जुनैद की पत्नी बीबी जुबैदा ने बताया कि पिछले 35 वर्षों से उक्त जमीन पर हमारे सास ससुर और पति कच्ची मकान में रह रहे थे।पिछले वर्ष ही पुराने मकान के गिर जाने से कर्ज लेकर नया मकान बनाया था।जिसमें पति और पांच छोटे छोटे बच्चों के साथ रह रहे थे। नदीम अहमद ने कुछ माह पूर्व अंचल कार्यालय तारापुर में घर तोडवाने को लेकर आवेदन दिया था।हमारी आर्थिक स्थिति काफी खराब है।लोगों के घर बर्तन मांझ कर परिवार का पेट पालती हूं।घर तोड़े जाने से बेघर हो गई हूं।अपने छोटे छोटे बच्चों के संग कहां जायें समझ नहीं आ रहा है।इधर एक गरीब का घर तोड़े जाने पर आवेदनकर्ता नदीम अहमद के खिलाफ ग्रामीणों में रोष देखा जा रहा था।जुबैदा ने मकान तोड़ने आये पदाधिकारियों से बताया कि हमारे घर से सटे कई लोग सरकारी जमीन में घर बनाकर रह रहे हैं।यदि मेरा मकान तोड़ा जा सकता है तो वैसे लोगों का भी मकान तोड़ा जाये जो सरकार के जमीन पर अनाधिकृत रूप से मकान बनाकर रह रहे हैं।इसके लिये मैं भी अंचलाधिकारी को आवेदन दूंगी।दिये गये आवेदन में सैकड़ो स्थानीय लोगों का हस्ताक्षर भी होगा।पदाधिकारियों ने कहा आवेदन प्राप्त होने पर जांच कर अविलंब कार्रवाई की जायेगी। माकन टूटते देख बीबी जुबैदा एवं उसके बच्चे फुट फुटकर रो रहे थे । तौहीद अंसारी की पत्नी एएसडीओ को रो रोकर घर न तोड़ने की मिन्नतें कर रही थी। उन्होंने वरीय पदाधिकारियों का आदेश का हवाला देते हुए पुरे पक्के माकन को तुड़वा दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *