मुंगेर राजनीति हवेली खड़गपुर

कांग्रेस एमएलसी एमएलए का एक दिवसीय खड़गपुर दौरा,मुंगेर में विकास योजनाओं में भ्रष्टाचार व्याप्त : समीर, स्वास्थ्य एवं शिक्षा का उठाया मुद्दा,सिंधुवारिणी जलाशय योजना में अंतर विभागीय संकट का होगा समाधान : अजय,

516 Views

कांग्रेस एमएलसी एमएलए का एक दिवसीय खड़गपुर दौरा,मुंगेर में विकास योजनाओं में भ्रष्टाचार व्याप्त : समीर, स्वास्थ्य एवं शिक्षा का उठाया मुद्दा,सिंधुवारिणी जलाशय योजना में अंतर विभागीय संकट का होगा समाधान : अजय, हवेली खड़गपुर/ मुंगेर।कांग्रेश एमएलसी डॉ समीर कुमार सिंह एवं जमालपुर के विधायक डॉ अजय कुमार सिंह एक दिवसीय दौरे पर हवेली खड़गपुर पहुंचे और कांग्रेस प्रदेश प्रतिनिधि मोहम्मद इनामुल हक के आवास पर पत्रकारों से बात की।  एमएलसी समीर सिंह ने स्वास्थ्य एवं शिक्षा का मुद्दा उठाया। दूसरी ओर विधायक अजय कुमार सिंह ने कृषि एवं सिंचाई व्यवस्था पर अपनी बातें कहीं। एमएलसी समीर सिंह ने कहा कि  मुंगेर में सरकारी योजनाएं भ्रष्टाचार की बलि चढ़ गई है। सुशासन के नाम पर चल रही सरकार की विकास कार्यों में कोई भी अभी रुचि नहीं है। उन्होंने कहा कि मैंने विधान परिषद में सरकार का ध्यान गंगटा अतिरिक्त स्वास्थ्य केंद्र पर आकृष्ट किया कि वहां कोई डॉक्टर नहीं है पर सरकार के फाइल में वहां दो डॉक्टर पोस्टेड हैं। उन्होंने कहा जिले के किसी भी अतिरिक्त स्वास्थ्य केंद्र में आप चले जाएं कहीं भी डॉक्टर नहीं है। सोचिये नीतीश सरकार स्वास्थ्य के मामले मैं क्या खेल खेल रही है उन्होंने कहा यही हाल सरकारी विद्यालयों की है 2 शिक्षकों के सहारे प्राथमिक एवं मध्य विद्यालय संचालित है उन्होंने कहा सरकारी आंकड़ों पर विश्वास करें तो बिहार में मात्र 8% बच्चों के बीच ही किताब का वितरण किया गया है। 31%  स्कूलों में लाइब्रेरी नहीं है। 36 . 6 प्रतिशत लाइब्रेरी का संचालन नहीं हो रहा है। 70% विद्यालय बिना लाइब्रेरी के चल रहे हैं। सरकार डिजिटल शिक्षा की बात करती है, 93% स्कूलों में कंप्यूटर नहीं है। सिर्फ मुंगेर ही नहीं पूरे बिहार की यही दशा है। उन्होंने कहा कि मैंने केवल पटना के पीएमसीएच की दुर्दशा दूर करने की मांग सरकार से की। पीएमसीएच की सफाई व्यवस्था प्राइवेट एजेंसी के पास है। फलस्वरुप सफाई के नाम पर खानापूर्ति होती है। स्वास्थ्य के मामले में बिहार 30 में और शिक्षा के क्षेत्र में 19वें स्थान पर है। उन्होंने कहा कि पीएम आवास योजना भी घोटालों का शिकार है। सरकार शौचालय के लिए 12,000 देती हैं जिसमें 4,000 रिश्वत में चला जाता है। आवास योजना के एक लाख 20 हजार में ₹20000 भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाती है। उन्होंने कहा कि भ्रष्ट माहौल में विकास संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि जल जीवन हरियाली की बात करने वाली सरकार अपने ही तालाब पर अतिक्रमण कर भवन निर्माण का कार्य कर रही हैं। विधायक डॉ अजय कुमार सिंह ने कहा कि मैंने सिंधुवारिणी जलाशय योजना की जानकारी मुख्यमंत्री को सदन के माध्यम से दिया। उन्होंने कहा कि कितनी पुरानी योजना है तो अंतर विभागीय संकट का समाधान होगा। उन्होंने धान अधिप्राप्ति पर भी  चर्चा करते हुए कहा कि 45 हजार मैट्रिक टन सरकार का धान अधिप्राप्ति का टारगेट था, मात्र 35 हजार मेट्रिक टन की खरीदी की गई और किसानों को धान के मूल्यों का भुगतान सही से नहीं हो पा रहा है। सरकार  आम लोगों की कम कॉर्पोरेट वालों की बात ज्यादा सुनती है। उन्होंने कहा कि किसानों को एक कमेटी बनानी होगी और अपनी मांगों के लिए एकजुट होकर आंदोलन करना होगा।मौके पर प्रदेश प्रतिनिधि इनामुल हक, सेवानिवृत्त शिक्षक श्याम मोहन सिंह, टेटिया बंबर प्रखंड अध्यक्ष शिवाजी सिंह, युवा मीडिया प्रभारी विशाल चौरसिया, रवि शंकर मुन्ना , अभय सिंह, सत्यप्रकाश सिंह, चंद्रशेखर सिंह, मुरारी यादव, खड़कपुर प्रखंड अध्यक्ष अमरेश चौरसिया, मो. तवारक खान, दिलीप मंडल, मो. इरफान, डब्लू यादव, मो. एडादुल हक, मो. सचन, मो. इमरान एवं अन्य थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *