मुंगेर शिक्षा

पीसीएमबी क्लासेस का प्रथम वार्षिकोत्सव का आयोजन,लहरों के डर से नौका पार नहीं होती कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती : अमरीश, 

629 Views

पीसीएमबी क्लासेस का प्रथम वार्षिकोत्सव का आयोजन,लहरों के डर से नौका पार नहीं होती कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती : अमरीश, मुंगेर।नगर के तिलक मैदान स्थित पीसीएमबी क्लासेस का प्रथम वार्षिकोत्सव मनाया गया। उद्घाटन मुख्य अतिथि एचडीएफसी बैंक शाखा मुंगेर के  प्रबंधक अमरीश कुमार सिन्हा, बीआरएम कॉलेज के प्राध्यापक प्रो. डा. श्याम कुमार, एसबीपीडीसीएल के सहायक अभियंता अमित रंजन, पीसीएमबी क्लासेस की निदेशिका चंद्रमुखी ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया। अध्यक्षता सेवानिवृत्त शिक्षक मोहम्मद इकबाल अहमद ने की।  मंच संचालन डॉ. सुरेश कुमार कर रहे थे। मुख्य अतिथि एचडीएफसी बैंक के शाखा प्रबंधक अमरीश कुमार सिन्हा ने अपने अनुभव को साझा करते हुए कहा कि पहले मेहनत से पढ़ने वालों को बाद कम मेहनत करनी पड़ती है। असफलता सफलता की जननी है, असफलता से नहीं  घबराए क्योंकि लहरों के डर से नौका पार नहीं होती कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती। विशिष्ट अतिथि एसबीपीडीसीएल के सहायक अभियंता अमित रंजन ने कहा विद्यार्थियों को कभी भी मेहनत करने से पीछे नहीं हटना चाहिए, जो जितना मेहनत करता है, वह उतना आगे बढ़ता है। उन्होंनेे कहा कि कौन कहता है आसमां में सुराख नहीं होता, एक पत्थर तो तबियत से उछालो यारो। उन्होंने यह भी कहा कि विज्ञान जितना पढ़ना कठिन नहीं है उतना पढ़ाना कठिन है और पीसीएमबी क्लासेस विज्ञान के सभी विषयों की पूर्ण शिक्षा प्रदान कर छात्र-छात्राओं का मार्गदर्शन कर रही है, यह मुंगेर के लिए सौभाग्य की बात है। निदेशिका चंद्रमुखी ने बताया कि पीसीएमबी क्लासेस अपने सफलतम 6 वर्षों का सफर तय किया है। मुंगेर में यह पहला वार्षिकोत्सव है। पीसीएमबी क्लासेस अपने शुरुआती दिनों सेे ही बच्चों का बेहतर मार्गदर्शन करती रही है और आगेे भी करती रहेगी। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे मोहम्मद इकबाल अहमद ने प्रेरक शायरी से अपनी बातों को रखा। प्रो. डॉ श्याम कुमार ने पीसीएमबी क्लासेस के सफलतम 1 वर्ष पूरा होने पर संस्था सेेे जुड़े शिक्षकों एवं निदेशकों को बधाई दी और कहा कि पीसीएमबी क्लासेस मुंगेर के बच्चों के लिए एक समय मील का पत्थर साबित होगा। क्रम का समापन नितिन सुकुमार के धन्यवाद ज्ञापन से हुआ। इस मौके पर रूही रानी, दीक्षा सिंह, मुस्कान कुमारी, रूद्र, शशांक रंजन, अंशु कुमार, अनुज सिंह, विवेक कुमार, कोमल कुमारी, मुस्कान कुमारी, शिवांगी कुमारी, शौर्य शेखर,आहिल कुमार,सताशा प्रिया ,कृष्णा नंद, श्रेयस शिक्षिका आभा प्रियदर्शी, अमित कुमार एवं अन्य थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *