हवेली खड़गपुर

शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मचारियों की कमी का दंश झेल रहा है डिग्री कॉलेज, छात्रों के भरोसे चल रहा है विभागीय कार्य

381 Views

शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मचारियों की कमी का दंश झेल रहा है डिग्री कॉलेज,

छात्रों के भरोसे चल रहा है विभागीय कार्य

हवेली खड़गपुर

अनुमंडल क्षेत्र का गौरव एकमात्र डिग्री कॉलेज हरि सिंह महाविद्यालय इन दिनों शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मचारियों की कमी का दंश झेल रहा है जिसके कारण महाविद्यालय प्रशासन को कार्यालय व विभागीय कार्य करवाने के लिए छात्रों पर निर्भर होना पड़ रहा हैं। आलम यह हैं कि कर्मचारियों की घोर कमी के कारण नामांकन लेने, फॉर्म भरने, एडमिट कार्ड, मार्कशीट, सीएलसी लेने सहित एक छोटे से छाटे काम के लिए भी छात्रों को कॉलेज का दर्जनों चक्कर लगाना होता है। बावजूद कर्मचारियों की कमी के कारण छात्रों को किसी साधारण कार्य के लिए भी आज कल का सामना करना पड़ता है।

फिर भी उनका काम ससमय पूरा नहीं होता है जिसके कारण आय दिन छात्र-छात्राओं को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है. बताते चलें कि कॉलेज में प्रथम और द्वितीय श्रेणी का 24 टीचिंग कर्मचारियों का पद सृजित है जबकि कुल मिलाकर मात्र 8 टीचिंग कर्मचारी ही कॉलेज में कार्यरत हैं जबकि तृतीय श्रेणी के 15 एवं चतुर्थ श्रेणी का 24 कर्मचारियों का पद सृजित है, लेकिन दो तृतीय और चतुर्थ वर्ग में मात्र कार्यरत है. बताते चलें कि जनवरी 2019 में प्रधान लिपिक के सेवानिवृत्त होने के बाद लाइब्रेरी में कार्यरत तृतीय वर्ग के 2 महिला कर्मचारी को महाविद्यालय के कार्यालय में विभागीय कार्य निपटाने के लिए तैनात कर दिया गया है, लेकिन हजारों की तादाद में यहां पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं का विभागीय कार्य इन महिलाओं से नहीं निपट पा रहा है जिसके कारण वह विद्यालय प्रशासन को मजबूरन छात्रों का सहारा लेकर उनसे विभागीय कार्य करवाया जा रहा है. बुधवार को भी छात्रों का भारी संख्या पार्ट थर्ड का फॉर्म भरने एवं पार्ट वन का एडमिट कार्ड लेने के लिए उग्र भीड़ का सामना करना पड़ा। जिसे कार्यालय में तैनात महिला कर्मचारी नहीं संभाल पा रही थी जिसके कारण छात्र संघ के अध्यक्ष धनराज कुमार सहित अन्य छात्रों के भरोसे पार्ट वन का एडमिट कार्ड सहित अन्य विभागीय कार्य निपटाया गया।

कहते हैं प्रचार्य : –

कॉलेज के प्रभारी प्रचार्य डॉ रंजन सिंह ने कहा कि पदभार संभालने के बाद मैंने लगातार शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मी की कमी से तिलकामांझी एवं मुंगेर विश्वविद्यालय को अवगत कराया है. लेकिन अब तक किसी भी प्रकार का कोई स्पष्ट निर्देश विश्व विद्यालय से प्राप्त नहीं हुआ है.

फोटो: महाविद्यालय के कार्यालय में एडमिट कार्ड वितरण करते छात्र संघ के अध्यक्ष धनराज कुमार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat