तारापुर

फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी की टीम तारापुर पहुंची, बम बनाने में प्रयुक्त सामग्रियों का लिया सैंपल, सुमित कुमार की रिपोर्ट

163 Views

फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी की टीम तारापुर पहुंची,

बम बनाने में प्रयुक्त सामग्रियों का लिया सैंपल,

तारापुर ।

पटना फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी की टीम तारापुर पहुंच कर बम बनाने में प्रयुक्त सामग्रियों का सैंपल लिया। सनद रहे कि पिछले दिनों तारापुर थाना क्षेत्र अंतर्गत नारायणपुर पथ पर सोनारबा बासा के बरामदे पर लावारिस बम मिलने की घटना के बाद बम निरोधक दस्ता द्वारा उसे निष्क्रिय करने के बाद एफ़एसएल तथा एटीएस की टीम अलग अलग आकर इस घटना की जांच की। बम बनाने में प्रयुक्त सामग्रियों का सैंपल कलेक्शन कर ले गई। वहीं बम की क्षमता तथा बनाने के तरीके के आधार पर इसमें सक्रिय ग्रुप की अनुमानित पहचान करने का प्रयास भी कर रही है।

पुलिस के वरीय पदाधिकारी के अनुसार एफएसएल की बैलेस्टिक टीम ने निष्क्रिय बम में प्रयुक्त सामग्रियों का सैंपल लेकर गए । सामग्री की जांच टीम अपनी प्रयोगशाला में करेगी। उसके बाद उन्हें यह पता चल पाएगा कि इसमें प्रयुक्त सामग्री की खरीद की संभावना किन स्थलों से हो सकती है। वहीं एटीएस की टीम का मानना है की प्राप्त बम लो एक्सप्लोसिव श्रेणी का था। इसकी मैन्युफैक्चरिंग किसी बहुत बड़े जानकार टीम के द्वारा नहीं की गई है। आशंका व्यक्त किया गया कि कोई नजदीक का पार्टी बम बनाने की कला को सीख कर आया तथा बम बनाकर सुनसान बहियार में इसे टेस्ट करने का प्रयास किया है। बम विस्फोट की प्रक्रिया में एक ऐसी स्थिति बनती है कि अगर मिशन असफल हो तो उसे उठाकर कहीं ले भी नहीं जा सकता या ऐसे कहें कि ना उठाते बनता है और ना छोड़ते बनता है की स्थिति बन जाती है। यही स्थिति बनी। इतना तय है कि इसमें एक से अधिक व्यक्ति शामिल हैं । राहत की बात यह है कि इसमें नक्सली गतिविधि की आशंका प्रतीत नहीं होती है। नक्सली के गतिविधि या उसके कार्य करने के तरीके से यह घटना मेल नहीं खाती है। बहरहाल दोनों टीमों के जांच प्रतिवेदन के बाद स्थिति बहुत स्पष्ट हो पाएगी। जांच के क्रम में दोनों टीम को थानाध्यक्ष अमरेंद्र कुमार ने भरपूर सहयोग किया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *